CPU Kya hai | सीपीयू क्या है | What is CPU

आज के समय में कंप्यूटर हर जगह उपयोग होता है. चाहे घर हो या ऑफिस हर जगह कंप्यूटर उपयोग की जाने वाले बहुत ही महत्वपूर्ण मशीन बन गई है. कंप्यूटर ने हर क्षेत्र में अपना स्थान महत्वपूर्ण बना लिया है. आज के समय में हमें हर छोटी से छोटी और बड़ी से बड़ी समस्या को सुलझाने के लिए कंप्यूटर का मदद लेना पड़ता है. कंप्यूटर हमारी रोजमर्रा की जिंदगी का एक अहम हिस्सा बन गया है और इसके बिना हम किसी कार्य की कल्पना नहीं कर सकते हैं. कंप्यूटर के बिना हम किसी चीज की कल्पना नहीं कर सकते हैं. चाहे बैंकिंग से जुड़ा काम हो या किसी तरह ही टिकट बुकिंग का काम हो हर जगह कंप्यूटर का ही इस्तेमाल हो रहा है.

इसे भी पढ़ें: इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक

सीपीयू क्या है
सीपीयू क्या है

इसे भी पढ़ें: आयुष्मान भारत योजना 2018

सीपीयू (CPU) को कंप्यूटर का मस्तिष्क भी कहा जाता है. CPU का पूरा नाम सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट (Central Processing Unit) है और इसे हिंदी में केंद्रीय प्रचालन तंत्र कहते हैं. CPU कंप्यूटर का एक मुख्य भाग है जिसका काम कंप्यूटर में आने वाले इनपुट (Input) निर्देशों को प्रोसेस (Process) करना है. कंप्यूटर का सारा डाटा CPU में ही संग्रह किया जाता है. CPU के अंदर एक CHIP लगा रहता है जिसे हम प्रोसेसर (Processor) कहते हैं. प्रोसेसर कंप्यूटर के सभी पुर्जों (Components) को नियंत्रित (Control) करता है. हम यह भी कह सकते हैं कि CPU के बिना कंप्यूटर किसी काम का नहीं है.

इसे भी पढ़ें: जीएसटी रिटर्न और जीएसटी रिटर्न फॉर्म

CPU के भाग: CPU के बहुत सारे भाग होते हैं जिसके बारे में नीचे बताया गया है: 

1. अंकगणितीय एवं तार्किक इकाई (Airthmetic and Logic unit): अंकगणितीय एवं तार्किक इकाई को हम एएलयू (ALU) के नाम से ज्यादा जानते हैं. ALU का कार्य कंप्यूटर में जोड़ना, घटाना, गुणा, भाग इत्यादि करना होता है. ALU के द्वारा ही हम तार्किक गणना या अंक गणितीय गणना भी कर सकते हैं.

2. स्मृति (Memory): CPU का एक मुख्य अंग स्मृति (Memory) है. यह एक भंडारण युक्ति (Storage Device) है. इसका उपयोग हम कंप्यूटर में डाटा को संग्रह करने के लिए करते हैं. कंप्यूटर में मेमोरी कई तरह से संग्रहित होती है जिनमें Main Memory, Internal Memory, Primary तथा Secondary Memory आते हैं. उदाहरण के लिए अगर कंप्यूटर पर कोई काम हो रहा हो या कंप्यूटर गतिशील हो तो इनका संग्रह Primary Memory में होता है परंतु जब डाटा को Save कर उस पर बाद में कार्य किया जाता है तो यह संग्रह Secondary Memory मेमोरी के अंतर्गत आता है.

इसे भी पढ़ें: जीएसटी पंजीकरण कैसे करें

3. नियंत्रण इकाई (Control unit): नियंत्रण इकाई कंप्यूटर के हर इकाई को व्यवस्थित करता है. यह कंप्यूटर से जानकारी लेता है और उन्हें सिग्नल सीरीज में बदलता है ताकि कंप्यूटर के बाकी पार्ट्स अपना कार्य आसानी से कर सके. नियंत्रण इकाई कंप्यूटर के Input, Output, Processor इत्यादि की गतिविधियों के बीच सही तालमेल बिठाने का कार्य करता है. यह CPU के मुख्य घटक है. इनके अलावा भी सीपीयू के कुछ भाग हैं जो नीचे बताया गया है:

इसे भी पढ़ें: जीएसटी क्या है और इसके क्या फायदे हैं

  • मदरबोर्ड (Motherboard): मदरबोर्ड CPU का सबसे महत्वपूर्ण भाग है. मदरबोर्ड के साथ जुड़कर कंप्यूटर के सारे हिस्से अपना काम कर पाते हैं. मदरबोर्ड एक प्रकार का सर्किट होता है जिसमें सभी माइक्रोप्रोसेसर, चिपसेट, ग्राफिक कंट्रोलर, कैपेसिटी कंडेंसर, इंटीग्रेटेड सर्किट आदि जुड़े होते हैं.

  • एसएमपीएस (SMPS): एसएमपीएस हमारे कंप्यूटर को बिजली सप्लाई करता है. यह एक कोड की तरह होता है जो कंप्यूटर को CPU से जोड़ने का काम करती है. इसी कोड में सीपीयू की सारी मुख्य तारे जुड़ी रहती हैं. इसके बिना कंप्यूटर के पुर्जो तो जोड़ना संभव नहीं है.
  • इसे भी पढ़ें: ईमेल क्या है और इसका क्या उपयोग है

    दोस्तों हमने जाना कि CPU में जितने भी भाग होते हैं उनका अपना एक अलग काम है. इनके मिलने से ही कंप्यूटर पर हम आसानी से पूरी तरह काम कर पाते हैं. उम्मीद है यह पोस्ट आपको पसंद आएगी. अगर आपको CPU से जुड़ा कोई सवाल हो या CPU के बारे में कुछ पूछना हो तो कमेंट बॉक्स में कमेंट करके अपना सवाल पूछ सकते हैं.


    YOU MAY ALSO LIKE

    1 comment:

    ALL TIME HOT